Aariv Shami

शैतान लूलू



एक बार की बात है एक शैतान लड़का था उसका नाम लूलू था | उसके मम्मी पापा उससे बहुत प्यार करते थे पर वह उनकी बात नहीं मानता था | उसके स्कूल और घर के पड़ोस के लोग उसकी बहुत शिकायत करते थे क्युकी वह सबको बहुत तंग करता था और स्कूल का काम भी समय पर पूरा नहीं करता था | इन सब के कारण उसके मम्मी पापा बहुत परेशान रहते थे वह उसको बहुत समझाते परन्तु वह किसी की बात नहीं मानता था और हमेशा अपनी मनमानी करता था |

एक दिन लूलू की मम्मी ने उसको अपना स्कूल का काम करने को कहा पर वह खेलने के लिए चला गया और काम करने की बात उसने नहीं सुनी | अगले दिन स्कूल से सन्देश आया की लूलू ने आज भी अपना कार्य पूरा नहीं किया | इस बार उसकी मम्मी को बहुत ज्यादा गुस्सा आ गया और उन्होंने लूलू की बात ना सुनने की आदत को सुधराने की सोची |

जब लूलू स्कूल से घर वापस आया तो उन्होंने उससे कोई बात नहीं की और उसको घर के बाहर खड़े होने के लिए बोला न ही उसको खाना खाने के लिए कहा और न ही काम पूरा करने के लिए बोला और घर के बाकि लोगों को भी उन्होंने लूलू से बात करने के लिए मना कर दिया | इस बार लूलू को कुछ समझ नहीं आया की ये सब उससे बात क्यों नहीं कर रहे है | और कोई उसको बचाने के लिए भी नहीं आया | फिर उसने सोचा की जब शाम को पापा दफ्तर से आएंगे तो मुझे अंदर ले जायेंगे और फिर वो शाम होने का इंतजार करने लगा |

पर शाम को जैसे ही पापा आये तो वह भी सीधे घर के अंदर चले गए और लूलू को देखके भी अनदेखा कर दिया अब तो लूलू को रोना आ गया और वह सोचने लगा की की अगर वो इतनी शैतानी ना करता तो सब उससे बात करते और वह सबके साथ अंदर फल खाता सबके साथ खेलता | वह ये सब सोचके रोए जा रहा था तो उसने ज़ोर से चिल्ला कर मम्मी पापा को सॉरी कहा और वादा किया की अब वह कभी शैतानी नहीं करेगा सबकी बात मानेगा और अपना काम भी समय से पूरा करेगा | तो मम्मी पापा ने उसको अन्दर बुला लिया और गले से लगा लिया उसको अपनी गलती का एहसास हो गया था |

और सच में कुछ दिनों में लूलू काफी बदल गया था वह अब पहले अपना काम पूरा करता और फिर खेलने जाता | मम्मी पापा की भी बात मानता | उसके इस बदलाव से सभी बहुत खुश थे क्यूंकि अब उसकी शिकायते भी आना बंद हो गयी थी और सब उसको पसंद करने लगे थे |

आरिव शमी

You may also like these

vision

Vision is a platform for writers to bring
out the storyteller in them.
Here they can transform their
imagination into everlasting stories.